-->

TWIN TOWER NOIDA all Update

Post a Comment

Twin Tower Noida 9 सेकंड में गिर गया 

आज यानि दिन रविवार को रिमोट कण्ट्रोल धमाके द्वारा ध्वस्त कर दिया गया काफी सालों से चल रहे Twin Tower पर कानून विवाद के बाद 3700 किलोग्राम बारूद के द्वारा 28 अगस्त दिन रविवार को 30 मंजिला बिल्डिंग ट्विन टावर को गिरा दिया गया है 



twin-tower-noida-demolition
Twin Tower Noida



500 करोड़ का आया था खर्चा 

श्रोतों के अनुसार Twin Tower Noida पर कंस्ट्रक्शन और ब्याज सहित 500 करोड़ रूपये खर्च किये गए थे और 28 अगस्त को बारूद ने महज कुछ सेकंड में इतने बड़ी सुपरटेक की बिल्डिंग ट्विन टावर जो की नॉएडा में थी उसको बारूद के द्वारा गिरा दिया गया 
इस बिल्डिंग को गिरने की बजह से आस पास के एरिया में बहुत ज्यादा धूल वगेरा हो गयी वैसे तो सेफ्टी के पुख्ता इंतजाम किये गए थे 
लेकिन जो बिलकुल नजदीक निवसीय लोग थे उनको काफी दर भी था क्यूंकि ऐसा भारत देश में पहली बार हुआ है की जैसा की इतनी बड़ी बिल्डिंग को बारूद से गिराया गया है। 


twin-tower-noida




TWIN TOWER को क्यों गिराया गया ?

 पिछले साल अगस्त 2021 में, सुप्रीम कोर्ट ने संरचनाओं के विध्वंस का आदेश दिया क्योंकि उनके निर्माण ने न्यूनतम दूरी की आवश्यकता का उल्लंघन किया था। Supreme Court के अनुसार, यूपी अपार्टमेंट अधिनियम के तहत आवश्यक व्यक्तिगत फ्लैट मालिकों की सहमति के बिना इमारतों को अवैध रूप से बनाया गया था।
काफी लम्बा कानूनी विवाद चलने के बाद दिन रविवार 28 अगस्त 2022 को twin tower को 3700 किलोग्राम बारूद से मिटटी में मिला दिया गया 

TWIN TOWER पर लोगों की क्या राय ?


ट्विन टावर का टूटना यहां के लोगों के लिए जीत का संकेत है। इसकी मांग वे लंबे समय से कर रहे थे। आरडब्ल्यूए और हम भी याचिका का हिस्सा थे," मनीष कुमार, एसआर वीपी, नेफोवा
बड़ा सवाल यह है कि क्या इन जुड़वां टावरों के विध्वंस से भविष्य में बिल्डरों को अवैध निर्माणों से रोका जा सकेगा और क्या अधिक जवाबदेही होगी या यह भीड़ द्वारा उत्साहित एक अजीब घटना ही रहेगी?


इन विध्वंसों पर जनता और मीडिया का उन्माद और यह देश में सबसे बड़ा दर्शक खेल कैसे बन गया, यह अपने आप में एक अद्भुत कहानी है। अब जब यह हो चुका है और धूल-धूसरित हो गया है, लोग भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं, मुझे लगता है

सुपरटेक ट्विन टावर्स के विवादित ढांच कुतुब मीनार से भी लम्बे थे। कुतुबमीनार का निर्माण हिंदू और जैन मंदिरों को तोड़कर किया गया था।
नोएडा सुपरटेक ट्विन टावर आज एक नियोजित विध्वंस में गायब हो गए, नौ साल बाद निवासियों ने अदालत में मानदंडों के उल्लंघन का आरोप लगाया। उन्हें नष्ट करने के लिए 3,700 किलोग्राम विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया था और विस्फोट की आशंका में आसपास के निवासियों को खाली कर दिया गया था।




TWIN TOWER कहाँ था ?

ये तो सभी लोग जानते हैं की ट्विन टावर नॉएडा में था लेकिन सभी लोगों के मन में ये बिचार है की ये टावर नॉएडा में कहाँ था तो आपको बता दें की ट्विन टावर नॉएडा के सेक्टर 93 A में था जिसको दिन रविवार को बारूद से गिरा दिया गया है 

Related Queries?

supertech twin tower photos
twin tower noida cost
owner of twin tower noida
noida twin towers owner
noida twin towers demolition reason
Noida twin towers
twin tower
twin tower noida owner
Noida
twin tower demolition
supertech twin tower
why twin tower noida demolition
twin tower noida case
Noida Twin Tower Demolition
supertech twin towers
Noida twin towers demolition
Supertech
why noida twin towers demolished
ट्विन टावर नोएडा
why twin tower is demolished
live news
twin towers noida
twin tower noida demolition why
twin tower demolition time
Noida Twin Tower

Related Posts

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter